Uncategorizedजनसंपर्कटॉप न्यूज़

रायगढ़ : पूर्व विधायक ने की वीआईपी ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मियों से झूमाझटकी-गाली-गलौज , राहुल की न्याय यात्रा में ये कैसा अन्याय!

डमरूआ न्यूज/रायगढ़। राहुल गांधी की कथित भारत जोड़ो न्याय यात्रा गुरूवार 8 फरवरी 2024 को रायगढ़ अर्थात् ओड़िसा और छत्तीसगढ़ के बार्डर पर पहंुची थी। इस दौरान वहां व्हीआईपी ड्यूटी में तैनात पुलिस के जवानों से रायगढ़ के पूर्व कांग्रेसी विधायक प्रकाश नायक की ओर से झूमाझटकी की गई। विधायक व उनके कुछ महिला समर्थकों की ओर से यह हंगामा काफी देर तक चलता रहा।
दरअसल राहुल गांधी की देश व्यापी यात्रा रायगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र रेंगालपाली से निकली, इसी स्थान पर राहुल गांधी से मुलाकात करने कांग्रेस के पदाधिकारी, कांग्रेस के पूर्व मंत्री, विधायक भी सभा स्थल पर पहंुच रहे थे। जब सभास्थल के बाहर लगे वीआईपी गेट से पूर्व विधायक प्रकाश नायक घुसने लगे तो गेट पर तैनात पुलिस कर्मियों द्वारा उन्हें वहीं पर रोक लिया। कुछ देर बहस चलने के बाद उन्हें अंदर जाने की इजाजत तो दी गई लेकिन पूर्व विधायक इस जिद पर अड़े रहे कि उनके साथ ही पांच महिला पार्टी कार्यकर्ता भी इसी व्हीआईपी गेट से सभा स्थल में जाएंगी। सुरक्षा में तैनात सीएसपी अभिनव उपाध्याय सहित अन्य पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों ने पूर्व विधायक प्रकाश नायक से काफी अनुनय विनय करते हुए उन्हें समझाइश दी कि उनके पास मौजूद लिस्ट में जिसका नाम है केवल वो व्यक्ति ही इस व्हीआईपी गेट से जा सकेंगे और जिनका नाम सूची में नहीं है उनके लिए दूसरा प्रवेश द्वार है, उस प्रवेश द्वार से वो सभा स्थल पहुंच सकते हैं, लेकिन पूर्व विधायक व उनके समर्थकों पर पुलिस के अनुनय विनय और समझाईशों का कोई असर नहीं हुआ उल्टा पूर्व विधायक पुलिस सुरक्षा घेरा को जबरन तोड़ कर अंदर घुसने की कोशिश करने लगे और मौजूद पुलिस कर्मियों से झूमा झटकी करने लगे, इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को अश्लील मां ###. की गाली दी, वास्तव में पुलिस के जवान और अधिकारी तो वहां पर केवल अपनी ड्यूटी कर रहे थे। लिस्ट में नाम जोड़ना या घटाना जिला कांग्रेस कमेटी के विशेषाधिकार की बात थी। अंततः ये सब करने के बाद भी जब वो उस गेट से अंदर नहीं घुस सके तो उसी गेट पर वो धरने पर बैठ गए। बाद में पुलिस के अधिकारी उन्हें सभा स्थल ले कर गए, लेकिन पूर्व विधायक का मूड उखड़ चुका था लिहाजा सभा स्थल पर वो गए जरूर लेकिन थोड़ी ही देर बाद वो वहां बिना रूके ही वहां से बाहर आ गए।

वीडिओ :-

कांग्रेस के भीतर अपनों के लिए ही पक रही खिचड़ी

विधानसभा चुनाव और उसके काफी पूर्व से ही जिला कांग्रेस के भीतर अपनों के लिए खिचड़ी पकने की खबरें सामने आती रही हैं, विधानसभा चुनाव में प्रकाश नायक की हार के पीछे भी यह खिचड़ी अहम रही है। बहरहाल गुरूवार को हुए घटना क्रम से यह बात तो साफ है कि जिला कांग्रेस अपने ही पूर्व विधायक को कोई भाव नहीं दे रही है, वर्ना महज कुछ माह पूर्व ही जिस विधायक के आगे पीछे और दरबार में जिला कांग्रेस के दिग्गज दिखाई दिया करते थे वही आज किनारा करते हुए दिखाई दे रहे हैं। राहुल गांधी कांग्रेस के बड़े नेता हैं, ऐसे में उनसे मुलाकात की तमन्ना प्रत्येक कांग्रेस कार्यकर्ता के भीतर सहज भाव से होती है। लेकिन रायगढ़ के विधायक जैसे ही पूर्व हुए वैसे ही उनके इर्द-गिर्द नजर आने वाले लोग ही उनके खिलाफ शाजिस रचते नजर आने लगे। आखिर न्याय यात्रा के दौरान ही यह विवादास्पद स्थिति किसकी शरारत से निर्मित हुई। पूर्व विधायक और उनके कुछ खास समर्थकों का नाम सूची से किसने गायब करवा दी, यह पार्टी स्तर पर ही जांच का विषय है। इस प्रकार की घटनाओं से पूर्व विधायक की प्रतिष्ठा भी धूमिल होगी साथ ही उनके स्वाभिमान को भी ठेस लगेगा । राहुल की न्याय यात्रा में ऐसा अन्याय ठीक नहीं, वर्तमान में यही विषय शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है।

क्या पूर्व विधायक पर होगी कार्यवाही

व्हीआईपी ड्यूटी में तैनात पुलिस जवानों से झूमाझटकी करने वाले पूर्व विधायक और उनके समर्थकों पर रायगढ़ पुलिस मामला दर्ज कर सकती है। यह बात और है कि पुलिस के कुछ अधिकारियों को इस प्रकार की राजनैतिक झूमाझटकी की आदस सी पड़े जाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
×

Powered by WhatsApp Chat

×