छत्तीसगढ़ पुलिसटॉप न्यूज़रायगढ़

ऑनलाइन फ्रॉड, साइबर टिपलाइन और सड़क दुर्घटना पर आधारित कार्यशाला में शामिल हुए थाना प्रभारी और सीसीटीएनएस ऑपरेटर्स…..

  • विवेचकों को बताया गया फ्रॉड के मामलों में पीड़ित के रूपये होल्ड कराने को दी जाये प्राथमिकता……
  • सड़क दुर्घटनाओं से संबंधित ‘e-DAR’ पोर्टल में भरी जाने वाली जानकारी की दी गई जानकारी…
  • गुम मोबाइल को ट्रैश कराने थानों में लगे क्यू.आर. कोड स्कैन कर साइबर सेल को दी जा सकती है जानकारी…

डमरुआ न्युज/रायगढ़ । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार के निर्देशन पर पुलिस कंट्रोल रूम रायगढ़ में साइबर पोर्टल, ऑनलाइन फ्रॉड, साइबर टिपलाइन, JCCTS तथा सड़क दुर्घटना संबंधी “eDAR” पोर्टल के संबंध में प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया ।

कार्यशाला में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी धरमजयगढ़/साइबर सेल पर्यवेक्षण अधिकारी दीपक मिश्रा द्वारा प्रशिक्षणार्थी थाना प्रभारी एवं सीसीटीएनएस कंप्यूटर ऑपरेटरों को साइबर पोर्टल, ऑनलाइन फ्रॉड, साइबर टिपलाइन, JCCTS के संबंध में ऑनलाइन ऑनलाइन प्राप्त होने वाले शिकायतों का निराकरण के संबंध में जानकारी दिया गया । विवेचकों को ऑनलाइन फ्रॉड के मामलों में पीड़ित के ठगी के रुपयों को जल्द से जल्द होल्ड करने पीड़ित की शिकायत व दस्तावेजों को पोर्टल पर अपलोड करने कहा गया जिससे बैंक ठगी रूपयों को होल्ड कर सकें ।

कार्यशाला में एसडीओपी दीपक मिश्रा बताए कि साइबर सेल के आरक्षक रविंद्र गुप्ता द्वारा गूगल से क्यू.आर. कोड तैयार किया गया है जिसे सभी थानों के बाहर चस्पा किए गए हैं । गुम मोबाइल के संबंध में प्राप्त होने वाले आवेदन के प्राप्ति उपरांत गुम मोबाइल स्वामी से उस क्यू.आर. कोड स्कैन करावें, स्कैन पश्चात एक गूगल फॉर्म को फिलअप करावें जिससे गुम मोबाइल के संबंध में संपूर्ण जानकारी साइबर सेल रायगढ़ को सीधे प्राप्त होगी जिससे गुम मोबाइल को शीघ्र ट्रेस करने में आसानी होगी । वहीं गुम मोबाइल के स्वामी को कहीं भटकना नहीं पड़ेगा।

कार्यशाला में उप पुलिस अधीक्षक यातायात रमेश चंद्रा तथा वर्चुअली कार्यशाला में सम्मिलित हुए स्टेट रोल आउट मैनेजर श्री सारंश सिरके (रायपुर) एवं जिला रोल आउट मैनेजर दुर्गा प्रसाद प्रधान जिन्होंने सड़क दुर्घटना से संबंधित ‘e-DAR’ पोर्टल पर भरने संबंधी महत्वपूर्ण जानकारियां के संबंध में विवेचकों एवं सीसीटीएनएस ऑपरेटर्स को जानकारी दिया गया । उन्होंने बताया कि पोर्टल पर भरी जाने वाली जानकारियां सड़क दुर्घटनाओं पर कमी लाने बनाये जाने वाली कार्ययोजना के लिए अहम होता है, इसे सही भरा जावें । कार्यशाला में निरीक्षक शनिप रात्रे, प्रशांत राव अहेर, रामकिंकर यादव, राजेश कुमार जांगड़े, सौरभ द्विवेदी, उप निरीक्षक मनीष कांत, सहायक उप निरीक्षक मनमोहन बैरागी, प्रधान आरक्षक जयशरण चन्द्रा, साइबर सेल के प्रधान आरक्षक राजेश पटेल, दुर्गेश सिंह, रेनू मंडावी सिंह, आरक्षक धनंजय कश्यप, सुरेश सिदार रविन्द्र गुप्ता, विक्रम सिंह, प्रमोद सागर एवं थानों के सीसीटीएनएस ऑपरेटर उपस्थित थे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
×

Powered by WhatsApp Chat

×